Monday, June 24, 2024
HomeखबरेंPaytm CEO विजय शेखर शर्मा ने RBI की कार्यवाही को बताया 'स्पीड...

Paytm CEO विजय शेखर शर्मा ने RBI की कार्यवाही को बताया ‘स्पीड बम्प’, कहा हम दूसरे बैंकों के साथ करेंगे काम

फिनटेक फर्म Paytm CEO विजय शेखर शर्मा ने गुरुवार को एक कॉन्फ्रेंस कॉल में कहा कि 29 फरवरी के बाद पेटीएम पेमेंट्स बैंक की लगभग सभी सेवाओं को बंद करने का RBI का आदेश है। पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा है कि कंपनी अपने सहयोगी बैंक पर निर्भरता कम करना जारी रखेगी और अन्य बैंकों के साथ अपनी साझेदारी में तेजी लाएगी।

उन्होंने बताया कि कंपनी ने दो साल पहले ही अन्य बैंकों के साथ काम करना शुरू कर दिया था और अब वह अन्य बैंक पार्टनर्स के साथ जाने की योजना में तेजी ला रहें हैं। हम वास्तव में विभिन्न बैंकों, इस देश के बड़े बैंकों और जो पहले से ही भागीदार हैं, उनसे मिले समर्थन से अभिभूत हैं। विजय ने कहा, “उन्हे कई बड़े बैंकों ने संपर्क किया है उनका कहना है कि उन्हें हमारी मदद करने में बहुत खुशी होगी।”

पेटीएम पर RBI की यह कार्यवाही एक ‘स्पीड बम्प’ है

पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा, “पेटीएम पर RBI की यह कार्यवाही एक ‘स्पीड बम्प’ है, लेकिन हम बैंकों की साझेदारी में विश्वास करते हैं और हम अगले कुछ दिनों में इसे पूरा कर लिया जाएगा।”

विजय ने कहा, “One 97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (OCL) पहले से ही कई अन्य बैंकों के साथ काम करता है और पेटीएम पेमेंट्स बैंक प्रमुख बैंकों में से एक था। यहां से हम स्पष्ट हैं कि हम विभिन्न अन्य बैंकों के साथ काम करेंगे, न कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (PPBL) के साथ।”

OCL और PPBL पहले से ही नोडल खातों को अन्य बैंकों में स्थानांतरित करने की प्रक्रिया में हैं, और अब RBI के इन निर्देशों के कारण हमारी सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी।

फास्टैग भी अन्य बैंकों द्वारा जारी रहेंगे

फास्टैग के मामले पर अध्यक्ष और सीओओ भावेश गुप्ता ने कहा, “ऐसे उत्पादों का एक सेट है जो पेटीएम ऐप उपयोगकर्ताओं को प्रदान करता है, फास्टैग जैसे कुछ उत्पाद पहले से ही अन्य बैंकों द्वारा वितरित किए जाते हैं और जारी रहेंगे।”

पेटीएम पेमेंट गेटवे (Paytm Payment Gateway) पर क्या होगा असर

इस बीच, पेटीएम पेमेंट गेटवे व्यवसाय (ऑनलाइन व्यापारी) अपने मौजूदा व्यापारियों को भुगतान समाधान प्रदान करना जारी रखेगा।

फाइलिंग में कहा गया है, “ओसीएल की ऑफलाइन मर्चेंट पेमेंट नेटवर्क पेशकश जैसे पेटीएम क्यूआर, पेटीएम साउंडबॉक्स, पेटीएम कार्ड मशीन हमेशा की तरह जारी रहेगी, जहां यह नए ऑफलाइन व्यापारियों को भी अपने साथ जोड़ सकती है।”

आरबीआई ने यह भी कहा कि ओसीएल और पेटीएम पेमेंट्स सर्विसेज (पीपीएसएल) के ‘नोडल खातों’ को जल्द से जल्द समाप्त किया जाना चाहिए, किसी भी स्थिति में 29 फरवरी, 2024 से पहले नहीं। फाइलिंग में कहा गया है कि ओसीएल और पीपीएसएल नोडल को दूसरे में स्थानांतरित कर देंगे।

पेटीएम ने कहा, ओसीएल अपने ग्राहकों को विभिन्न भुगतान उत्पाद पेश करने के लिए विभिन्न अन्य बैंकों के साथ साझेदारी करेगा।

यह भी पढ़ें: Paytm Crisis: RBI की पाबंदी के बाद, Paytm जल्द होगा दूसरें बैंक पार्टनर्स पर ट्रांसफर, सर्विस रहेगी जारी

बता दें कि केंद्रीय बैंक द्वारा भुगतान बैंक की सहायक कंपनी को अपना व्यवसाय बंद करने का आदेश देने के बाद गुरुवार को पेटीएम ने अपने बाजार मूल्य का पांचवां हिस्सा खो दिया, जिससे कंपनी की लाभप्रदता और जिस ऐप पर वह निर्भर है, उसे खतरा है।

राष्ट्रबंधु की नवीनतम अपडेट्स पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें, WhatsAppYouTube पर हमें सब्सक्राइब करें, और अपने पसंदीदा आर्टिकल्स को शेयर करना न भूलें।

CHECK OUT LATEST SHOPPING DEALS & OFFERS

Rashtra Bandhu
Rashtra Bandhuhttps://www.rashtrabandhu.com
There are few freelance writers/ authors in the Rashtra Bandhu Team who make their articles available for publication on the portal.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular