Saturday, August 13, 2022
Homeविविधअजब-गजबGolden Lancehead Viper: यहां रहते हैं खतरनाक सांप ही सांप, इंसानों के...

Golden Lancehead Viper: यहां रहते हैं खतरनाक सांप ही सांप, इंसानों के जाने पर है पाबंदी

दुनिया भर में सांपों की विभिन्न प्रजातियों पायी जाती हैं। सांपों का होना हमारे वातावरण के लिए अत्यंत आवश्यक हैं। आज हम आपको दुनिया के एक ऐसे खतरनाक आइलैंड के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां दुनिया के सबसे खतरनाक सांप Golden Lancehead Viper पाए जाते हैं। जिससे इस आइलैंड को ”स्‍नेक आइलैंड” का नाम दिया गया है। ये स्‍नेक आइलैंड ब्राजील के दक्षिणपूर्वी हिस्से के तट पर स्थित है। ये आइलैंड ब्राजील के साओ पाउलो राज्य का हिस्सा है।

इस आइलैंड पर दुनिया के सबसे खतरनाक सांप हैं

स्‍नेक आइलैंड पर Bothrups insularis प्रजाति के सांप रहते हैं, जिसे हम गोल्डन लांसहेड वाइपर (Golden Lancehead Viper) के नाम से भी जानते हैं। ये दुनिया के सबसे खतरनाक सांप है। जीव विज्ञान के अनुसार इन सांपों को दुनिया के सबसे ख़तरनाक सांप फेर-डी-लांस के जैनेटिक माना गया है। गोल्डन लांसहेड वाइपर सिर्फ इसी आइलैंड पर पाए जाते हैं।

इस आइलैंड पर इतने खतरनाक सांप कैसे पनपे

रिपोर्ट्स की मानें तो 11 हजार साल पहले अंतिम हिमयुग के खत्म होने के बाद इस प्रजाति से सांप इस आइलैंड पर फंस गए थे। समुद्र के बढ़ते जल स्तर की वजह से यह आइलैंड, मेनलैंड से अलग हो गया था। इस आइलैंड को मेनलैंड से जोड़ने वाली जमीन पानी के नीचे चली गई, जिससे यह हिस्सा आइलैंड बन गया है।

आखिर कितना खतरनाक है गोल्डन लांसहेड वाइपर

गोल्डन लांसहेड वाइपर दुनिया का सबसे खतरनाक सांप है। यह हल्के पीले और हल्के भूरे रंग का होता है। इसका सिर फेर-डी-लांस की तरह काफी बड़ा होता है। इसकी नाक नुकीली होती है। रिपोर्ट्स के अनुसार इस आइलैंड पर अब गोल्डन लांसहेड वाइपर सिर्फ ढाई से तीन हजार रह गए हैं, लेकिन एक समय ऐसा भी था जब इस आइलैंड पर 4 लाख से ज्यादा इन सांपों की प्रजाति थी, पर भोजन की कमी और मौसम बदलाव की वजह से इनकी संख्या काफी घट रही है।

स्‍नेक आइलैंड पर इंसानों के जाने पर है पाबंदी

स्‍नेक आइलैंड इतना खतरनाक है कि ब्राजील सरकार ने यहां इंसानों के जाने पर पाबंदी लगा दी है और ब्राजील की नौसेना को इसकी जिम्मेदारी दी गई है कि यहां कोई भी इंसान ना जाए पाए।

सिर्फ नौसेना के जवान जाते हैं इस आइलैंड पर

ब्राजील सरकार ने इस आइलैंड पर सिर्फ नौसेना को जाने की इजाजत देती है। इस आइलैंड पर हर साल नौसेना लाइटहाउस की मरम्मत करने के लिए जाती है। बहुत ही कम शोधकर्ताओं को इस आइलैंड पर जाने की अनुमति मिलती है, अगर अनुमति मिल जाए तो शोधकर्ताओं को आइलैंड पर जाने के लिए अपने साथ प्रमाणित डॉक्टर को ले जाना अनिवार्य रहता है।

राष्ट्रबंधु की नवीनतम अपडेट्स पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें और अपने पसंदीदा आर्टिकल्स को शेयर करना न भूलें।

Team Rashtra Bandhu
Team Rashtra Bandhuhttps://www.rashtrabandhu.com
There are few freelance writers/ authors in the Rashtra Bandhu Team who make their articles available for publication on the portal.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments