एक दिन में कितने अखरोट खाने चाहिए? जानें अखरोट खाने के फायदे व नुकसान

 एक दिन में कितने अखरोट खाने चाहिए? जानें अखरोट खाने के फायदे व नुकसान

अखरोट में फाइबर होने की वजह से यह पाचन तंत्र को बेहतर बनाता है यह विषाक्त चीजों को हमारे शरीर से दूर करने में भी मदद करता है अखरोट कब से राहत दिलाता है इसमें मौजूद मेलाटोनिन की मात्रा भी नींद को नियंत्रित करने में मदद करती है

अखरोट को पोषक तत्वों का भंडार भी कहा जाता है। ले‍किन क्‍या आप जानते हैं कि एक दिन में कितने अखरोट खाने चाहिए, जिससे अखरोट खाने के फायदे भरपूर मिल सकें। दिन में 1 से 2 अखरोट का सेवन दिल और दिमाग दोनों के लिए बेहतर होता है। इसलिए नियमित रूप से अखरोट के सेवन की सलाह दी जाती है। अखरोट खाने के कई स्वास्थ्य लाभ है।

अखरोट का इस्तेमाल सेहत के लिए अच्छा होता है। अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो दिल और दिमाग के लिए बहुत लाभकारी है। 30 ग्राम अखरोट में करीब 3.89 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स, 1 ग्राम शुगर, 2 ग्राम फाइबर, 0.72 मिलीग्राम आयरन, 5 ग्राम प्रोटीन, और 20 ग्राम फैट्स होते हैं। अखरोट में फॉस्पोरस, विटामिन बी-6, मैग्नीशियम, कॉपर, मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स समेत विटामिन और मिनरल्स की अच्छी मात्रा पाई जाती है।

यह भी पढ़ें: एक दिन में कितना दूध पीना चाहिए? जानें दूध पीने के फायदे

Benefits of Walnuts: अखरोट खाने के फायदे

अखरोट स्वास्थ्य फायदों से भरपूर और पोषक तत्वों का जबरदस्त स्रोत है। अखरोट सभी उम्र के लोगों को खाना चाहिए। अखरोट में फाइबर होने की वजह से यह पाचन तंत्र को बेहतर बनाता है यह विषाक्त चीजों को हमारे शरीर से दूर करने में भी मदद करता है। अखरोट कब्ज से राहत दिलाता है, इसमें मौजूद मेलाटोनिन की मात्रा भी नींद को नियंत्रित करने में मदद करती है। कुल मिलाकर अखरोट खाने के बहुत सारे फायदे हैं तो चलिए बिंदुवार जानते है कुछ और फायदे:

दिल के लिए अच्छा: मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स की वजह से अखरोट दिल के लिए अच्छा माना जाता है। अखरोट का सेवन करने वालों को कोरोनरी धमनी के रोग, दिल संबंधी समस्याएं, स्ट्रोक और हार्ट अटैक जैसी समस्याओं का खतरा बहुत काम हो जाता है।

दिमाग को बढ़ाने में मदद: बच्चों से लेकर बूढ़ों तक अखरोट हर उम्र के लोगों को खाना चाहिए। अखरोट संरचना देखने में इंसानी दिमाग के जैसी होती है, अखरोट को स्वस्थ दिमाग का फूड भी माना जाता है। विशेषज्ञों की माने तो अखरोट में पाया जाने वाला स्वस्थ फैट्स ऑक्सीडेटिव तनाव के लेवल को कम करने में मदद करता है। दूसरा हैरान करने वाला फायदा दिमागी दक्षता और दिमागी स्वस्थ को सुधारने में मदद करता है। अखरोट खासकर छोटे बच्चो को जरूर खिलाना चाहिए जिससे उनमे मस्तिष्क के विकास में अच्छी मदद मिल सके।

खास कैंसर के खतरे को कम करने में: कई रिसर्च में यहाँ सामने आया है कि अखरोट का नियमित सेवन खास तरह के कैंसर जैसे ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को कम करने में मददगार है। इसके अलावा हाई ब्लड प्रेशर और टाइप-2 डायबिटीज के खतरे को भी कंट्रोल रखता है। अखरोट शरीर में पनपी सूजन को कम करने में मददगार है।

वजन कम करने में मददगार: अखरोट आपके पेट को भरा अनुभव कराता है जिससे आप कम खाना खाते हैं और वजन संतुलित रखने में मदद मिलती है।

पुरुष प्रजनन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद: अखरोट पुरुष प्रजनन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करता है। खासकर वह पुरुष में जनन क्षमता कम हो, आयुर्वेद में ऐसे पुरुषों को नियमित अखरोट खाने की सलाह दी जाती है।

अखरोट के अधिक सेवन से होते है ये नुकसान

विशेषज्ञों की मानें तो अखरोट में कैलोरी की मात्रा अधिक पाई जाती है, ऐसे में अधिक मात्रा में अखरोट के सेवन से वजन बढ़ सकता है, ज्यादा अखरोट खाने से दस्त या पेट संबंधी परेशानियां भी हो सकती हैं। अखरोट की तासीर गर्म होती है जिसके कारण छाले या मुंह में घाव निकलने की संभावना भी रहती है। चिकित्सक कफ होने पर भी अखरोट के सेवन से परहेज करने की सलाह देते हैं। इसके अलावा, कुछ लोगों के अखरोट से एलर्जी भी हो जाती है। सीमित मात्रा में ही अखरोट का सेवन अच्छा फायदा पहुंचाता है।

अखरोट खाने का बेहतर तरीका?

बेहतर स्वास्थ्य के फायदे के लिए एक दिन में 1 से 2 अखरोट खाना पर्याप्त है। विशेषज्ञों की मानें तो अखरोट को रात भर भिगोकर रख दें और सुबह उनका सेवन करें। भीगोए हुए अखरोट (Walnuts) नट्स शरीर में संपूर्ण कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करने में मदद करते हैं। अखरोट को खाली पेट न खाएं, सुबह नाश्ते के साथ या फिर शाम में स्नैक्स के तौर पर इसे खाएं। प्रेगनेन्ट महिलाओं को भी भीगे अखरोट खाने की सलाह दी जाती है। सुबह में अखरोट का इस्तेमाल करने से थकान दूर होती है और ब्लड प्रेशर का लेवल नियंत्रित रहता है।

यह भी पढ़ें: जानें बादाम खाने का सही तरीका, फायदे व नुकसान

(Disclaimer : इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। Rashtra Bandhu इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।)

राष्ट्रबंधु की नवीनतम अपडेट्स पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें और अपने पसंदीदा आर्टिकल्स को शेयर करना न भूलें।

Ranjeeta

https://www.rashtrabandhu.com

My self Ranjeeta, I've passed out MCA from Bodhgaya University. I love to write in my spare time.

Related post

Happy Holi Happy Mahashivratri Happy Women’s Day